Indian Economy Quiz For SSC CGL, CHSL | Railways & Other Exams 2020-21

We are providing the compiled a list of questions of the Economics Section asked in the SSC CGL, Bank & Railway previous papers 2018/2017/2019 Exams. Here is a compiled list of some Important Economics Quiz Questions which you must read and get a fair idea to get well prepared for the Indian Constitution part of all government Examination.

we are providing you Previous Year Economics Questions. Solve daily quizzes that will help you memorize the topics

Economics Questions

 

 

  1. भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बैंक दर को कम करने की ओर जाता है?

The lowering of Bank Rate by the Reserve Bank of India leads to-

(A) बाजार में अधिक तरलता/ More liquidity in the market.

(B) बाजार में कम तरलता/ Less liquidity in the market.

(C) बाजार में तरलता में कोई बदलाव नहीं/ No change in the liquidity in the market.

(D) वाणिज्यिक बैंकों द्वारा अधिक जमा राशि का जुटाव/ Mobilization of more deposits by commercial banks.

ANSWERS: – 1(A)

 

  1. निम्नलिखित में से कौन सा मूल्य वर्धित करकी विशेषता नहीं है?

Which one of the following is not a feature of “Value Added Tax”?

(A) यह कराधान का एक बहु-बिंदु गंतव्य-आधारित प्रणाली है।/ It is a multi-point destination-based system of taxation.

(B) यह उत्पादन-वितरण श्रृंखला में लेनदेन के प्रत्येक चरण में मूल्यवर्धन पर लगाया गया कर है।/ It is a tax levied on value addition at each   stage of transaction in the production-distribution chain.

(C) यह माल या सेवाओं की अंतिम खपत पर एक कर है और अंततः उपभोक्ता द्वारा वहन किया जाना चाहिए।/ It is a tax on the final consumption of goods or services and must ultimately be borne by the consumer.

(D) यह मूल रूप से केंद्र सरकार का विषय है और राज्य सरकारें इसके सफल कार्यान्वयन के लिए केवल एक सुविधाकर्ता हैं।/ It is basically a subject of the Central Government and the State Governments are only a facilitator for its successful implementation.

ANSWERS: – 2(C)

 

  1. बंद अर्थव्यवस्थाएक अर्थव्यवस्था है जिसमें

A “closed economy” is an economy in which

(A) पैसे की आपूर्ति पूरी तरह से नियंत्रित है/ The money supply is fully controlled

(B) घाटा वित्तपोषण होता है/ Deficit financing takes place

(C) केवल निर्यात होता है/ Only exports take place

(D) न तो निर्यात होता है और न ही आयात होता है/ Neither exports nor imports take place

ANSWERS: – 3(D) 

 

  1. लीड बैंक योजना का मूल उद्देश्य है:

The basic aim of Lead Bank Scheme is that:

(A) बड़े बैंकों को प्रत्येक जिले में कार्यालय खोलने का प्रयास करना चाहिए।/ Big banks should try to open offices in each district.

(B) विभिन्न राष्ट्रीयकृत बैंकों के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए।/ There should be stiff competition among the various nationalized banks.

(C) व्यक्तिगत बैंकों को गहन विकास के लिए विशेष जिलों को अपनाना चाहिए।/ Individual banks should adopt particular districts for intensive development.

(D) सभी बैंकों को जमा राशि जुटाने के लिए गहन प्रयास करना चाहिए।/ All the banks should make intensive efforts to mobilize deposits.

ANSWERS: –  4(C) 

 

  1. किसी देश के भुगतान का संतुलन एक व्यवस्थित रिकॉर्ड है?

The balance of payments of a country is a systematic record of-

(A) आम तौर पर एक वर्ष में दी गई अवधि के दौरान सभी आयात और लेनदेन/ All import and transactions of a during a given period normally a year.

(B) एक वर्ष के दौरान किसी देश से निर्यात किया गया माल/ Goods exported from a country during a year.

(C) एक देश से दूसरे देश की सरकारों के बीच आर्थिक लेन-देन/ Economic transaction between the governments of one country to another.

(D) एक देश से दूसरे देश में पूंजी की आवाजाही/ Capital movements from one country to another.

ANSWERS: –  5(A) 

 

  1. बैंक दर में वृद्धि आम तौर पर इंगित करती है कि:

An increase in the Bank Rate generally indicates that the:

(A) बाजार की ब्याज दर गिरने की संभावना है/ market rate of interest is likely to fall.

(B) सेंट्रल बैंक अब वाणिज्यिक बैंकों को ऋण नहीं दे रहा है/ Central Bank is no longer making loans to commercial banks.

(C) सेंट्रल बैंक एक आसान मनी पॉलिसी का पालन कर रहा है/ Central Bank is following an easy money policy.

(D) सेंट्रल बैंक एक घन पैसे नीति का पालन कर रहा है/ Central Bank is following a tight money policy.

ANSWERS: -6(D)

 

  1. भारत में, घाटे के वित्तपोषण के लिए संसाधनों को बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाता है?

In India, deficit financing is used for raising     resources for-

(A) आर्थिक विकास/ economic development

(B) सार्वजनिक ऋण से छुटकारा/ redemption of public debt

(C) भुगतान संतुलन को समायोजित करना/ adjusting the balance of payments

(D) विदेशी ऋण को कम करना/ reducing the foreign debt

ANSWERS: –  7(A) 

 

  1. प्रच्छन्न बेरोजगारी का सामान्य अर्थ है?

Disguised unemployment generally means.

(A) बड़ी संख्या में लोग बेरोजगार रहते हैं।/ large number of people remain unemployed.

(B) वैकल्पिक रोजगार उपलब्ध नहीं है।/ alternative employment is not available.

(C) श्रम की सीमान्त उत्पादकता शून्य है।/ marginal productivity of labour is zero.

(D) श्रमिकों की उत्पादकता कम है।/ productivity of workers is low.

ANSWERS: –  8(C) 

 

  1. भारत में बैंकों द्वारा प्राथमिकता देने वाले क्षेत्र को ऋण देने का गठन किया गया है:

Priority Sector Lending by banks in India constitutes the lending to:

(A) कृषि  / agriculture

(B) सूक्ष्म और लघु उद्यम/ micro and small enterprises

(C) कमजोर वर्ग/ weaker sections

(D) उपरोक्त सभी/ All of the above

ANSWERS: – 9(D)

 

  1. निम्नलिखित में से कौन सा इसके प्रभाव में सबसे अधिक मुद्रास्फीति होने की संभावना है?

Which one of the following is likely to be the most inflationary in its effect?

(A) सार्वजनिक ऋण की चुकौती/ Repayment of public debt.

(B) बजट घाटे को पूरा करने के लिए जनता से उधार लेना/ Borrowing from the public to finance a budget deficit.

(C) बजट घाटे के वित्तपोषण के लिए बैंकों से उधार लेना/ Borrowing from banks to finance a budget deficit.

(D) बजट घाटे का वित्तपोषण करने के लिए नया पैसा बनाना/ Creating new money to finance a budget deficit.

ANSWERS: – 10(D)

You may also like...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.